जे डी जैन

EverybodyWiki Bios & Wiki से
यहाँ जाएँ:भ्रमण, खोज
जे डी जैन
J Jain.jpg
जन्म गांव रभडा, जिला सोनीपत, हरियाणा, भारत
आवास गाजियाबाद, भारत
राष्ट्रीयता भारत
अन्य नाम "जगमन्दर दास जैन"
जातीयता जैन धर्म, गर्ग
नागरिकता भारत
वेबसाइट
जे डी जैन
जैन समूह

जे डी जैन[१] (जगमन्दर दास जैन) "सेल्फ मेड इन्डस्त्रिअलिस्ट" का जन्म गांव रभडा, जिला सोनीपत, हरियाणा (भारत) में हुआ था। उनके माता पिता श्रीमती सुख देवी जैन और श्री मनोहर लाल जैन थे। श्री जे डी जैन[२] एक व्यवसायी, राजनीतिक, धार्मिक व्यक्ति और जरूरतमंद गरीब लोगों के लिए एक धर्मार्थ व्यक्ति है। वह सख्त शाकाहारी है। जे डी जैन ने अपने सामाजिक और संस्थागत गतिविधियों के माध्यम से उल्लेखनीय योगदान दिया है और धर्मार्थ संगठनों में सक्रिय रूप से भाग लेते हैं।

श्री जे डी जैन ने सन् १९६५ में अपने बड़े भाई ओम प्रकाश जैन के साथ जैन रोलिंग मिल्स और दूसरी कंपनियों (जैन समूह) का संस्थापन करा।[३]

प्रारंभिक जीवन[सम्पादन]

श्री जे डी जैन[४] ने गांव के स्कूल से अपनी प्राथमिक शिक्षा प्राप्त की और बाद में वह आगे कि शिक्षा के लिये जैन हायर सेकेंडरी स्कूल, दरिया गन्ज, दिल्ली गये। सन् १९६२ में वह प्रथम श्रेणी में सिविल इंजीनियरिंग उतीण की हावेत्त पॉलिटेक्निक, लखनऊ (उत्तर प्रदेश), भारत से।

श्री जैन की पत्नी श्रीमती इंदिरा देवी जैन (पुत्रि - श्री कश्मीरी लाल जैन, सचिव-राज्य सभा, भारत १९६०) की सन् १९८६ में मृत्यु कैंसर के कारण हो गयी, "श्रीमती इंदिरा देवी जैन के लिये यह कहा जाता है कि जिस कोई ने भी उन्का दरवाजा खटखटाया वह कभि भी खाली हाथ नही गया". सन् १९८६ में श्री ज॓ डी जैन ने डॉ॰ विध्युत जैन से शादी कर ली, जो एक प्रतिष्ठित जैन परिवार से है।

प्रगति[सम्पादन]

जे डी जैन एक सिविल इंजीनियर है। उन्होंने भारतीय सैन्य इंजीनियरिंग सेवा में सन् १९६३ में अपने प्रारंभिक वर्षों के दौरान एक कर्मचारी के रूप में शुरू किया था। बाद में उन्होंने अपने बड़े भाई ओम प्रकाश जैन के साथ लोहा इस्पात व्यवसाय शुरू किया। उन्होंने सन् १९६५ में एक मौजूदा लोहा इस्पात ले लिया, वह उस कारखाने को नये रूप में परिवर्तित करने में कामयाब रहे और जैन रोलिंग मिल्स - गाजियाबाद का जन्म हुआ।

जे डी जैन[५] के प्रयासों और अभिनव उत्पादन तकनीकों उपयोगी परिणाम था कि जैन रोलिंग मिल्स "आई एस आई" भारत प्रमाणित हुई। गुणवत्ता के उत्पादों ने भारत सरकार सहित और अन्य ग्राहक बड गये। ईसके बाद यह विस्तार और सफलताओं की गाथा थी। जैन रोलिंग मिल्स अंततः विकास प्राधिकरण और रक्षा (सिविल डिवीजन) मंत्रालय सहित भारत सरकार और राज्य सरकार के कई विभागों के लिए एक गुणवत्ता आपूर्तिकर्ता और रूपांतरण एजेंटों में से एक बन गया था।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

जे डी जैन की नई प्रौद्योगिकियों और अपने ही प्राकृतिक स्टोन (संगमरमर) राजसमंद (राजस्थान) जिला, भारत में खनन उद्योग के विशाल क्षेत्र में नवीन अर्थ योगदान दिया।[कृपया उद्धरण जोड़ें]

जैन ग्रुप ऑफ़ कंपनीज़[६][सम्पादन]

  • जैन रोलिंग मिल्स, भारत[७]
  • आईलेन्ड जनरल ट्रेडिंग कंपनी, युनाएतेद अरब एमिर॓तस
  • इंदिरा ओवरसीज लिमिटेड,
  • कैमरून इस्पात, कैमरून

पुरस्कार[सम्पादन]

  • "सेल्फ मेड इन्डस्त्रिअलिस्ट" के शीर्षक से सम्मानित किया गया, भारत के उपराष्ट्रपति महामहिम माननीय बी डी जत्ती द्वारा सन् १९७५ मे।
  • "समाज रत्न" शीर्षक से सम्मानित किया गया, जैन समुदाय द्वारा।
  • "आनोररी कमांडिंग अधिकारी" नियुक्ति सिविल डिफेन्स (भारत सरकार) द्वारा दी गयी।
  • "उद्द्योग् पत्र" से भारत सरकार द्वारा सम्मानित किया गया।
  • "आनोररी पशु कल्याण अधिकारी" क॓ शीर्षक भारतीय पशु कल्याण बोर्ड (भारत सरकार) द्वारा दिया गया।

दान[सम्पादन]

  • सेठ ओम प्रकाश जैन चैरिटेबल हॉस्पिटल - नि:शुल्क चिकित्सा सुविधाएं।
  • सुख देवी जैन नि:शुल्क चिकितसल्य - नि:शुल्क आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक सुविधाएं।

राजनीतिक गतिविधियाँ[सम्पादन]

जे डी जैन एक सच्चे कांग्रेसी व्यक्ति है और भारत में कांग्रेस पार्टी के साथ कंधे से कंधा मिला के काम करते हैं। वह श्रीमती गंगा देवी (संसद सदस्य सन् १९६५ - १९६६) के साथ संपर्क में आया थे और उसके बाद से वह भारत में कांग्रेस पार्टी के लिए काम कर रह॓ है।

धार्मिक प्रकृति[सम्पादन]

श्री जे डी जैन धार्मिक आदमी है। श्री जे डी जैन कई जैन धार्मिक और परोपकारी संस्थाओं के साथ जुडे हुये हैं।

सन् १९६५ में श्री जे डी जैन, एक जैन धर्म संत "श्री श्री 108 फूल चंद जी महाराज जी" के संपर्क में आये और जिस से उनहे प्रेरणा मिली और उन्होने अपने आप एक विशाल इमारत का निर्माण अपने गृह नगर में भारत गाजियाबाद में सन् १९७९ में किया, जो कि जैन धर्म स्थानक के रूप में जाना जाता है।

उपलब्धियां[सम्पादन]

श्री जे डी जैन - विभिन्न पदों पर, अपने प्रयासों और ज्ञान से व्यापार समुदाय, धार्मिक समुदाय और सरकार की सेवा की वा अभी भी कर रहे हैं।

  • संरक्षक - लोहा व्यपार मंडल गा., भारत।
  • अध्यक्ष - लोहा व्यपार मंडल गा., भारत।
  • अध्यक्ष सन् १९८० - स्टील रोलिंग मिल्स एसोसिएशन, नई दिल्ली, भारत।
  • उपाध्यक्ष सन् १९८० - इंडिया रोलर संघ, भारत।
  • उपाध्यक्ष सन् १९८० - नॉर्दन इंडिया इंजीनियरिंग एसोसिएशन, भारत।
  • सदस्य - उत्तर प्रदेश बिक्री कर सलाहकार समिति, भारत।
  • मुख्य कमांडिंग अधिकारी - सिविल डिफेन्स, गा., उत्तर प्रदेश सरकार, गृह मंत्रालय, भारत।
  • संरक्षक - जैन मिलन, उत्तर प्रदेश, भारत।
  • अध्यक्ष - भारतीय जैन मिलन, दिल्ली, भारत (समिति भारत में ६०० शाखा कार्यालयों है)।
  • अध्यक्ष - जैन मुनि श्री भग्मल जी महाराज श्मरक् अस्पताल, हरियाणा, भारत।
  • अध्यक्ष १९८० - रामलीला समिति गा., उत्तर प्रदेश, भारत।
  • अध्यक्ष - दिल्ली राज्य मंत्री श्री वर्धमान स्थानकवासि जैन महासंघ, दिल्ली, भारत।
  • अध्यक्ष - श्री एसएस जैन सभा जैन, भारत, दिल्ली।
  • अध्यक्ष - अखिल भारतीय श्री स्वेथम्बर स्थानकवासि, जैन कांफ्रेंस नई दिल्ली, भारत।
  • अध्यक्ष - उत्तर प्रदेश श्री स्वेथम्बर स्थानकवासि जैन सभा, भारत।
  • मार्ग दर्शक - अखिल भारतीय श्री जैन स्वेथम्बर स्थानकवासि सम्मेलन, भारत।
  • संरक्षक - अखिल भारतीय श्री जैन स्वेथम्बर स्थानकवासि सम्मेलन, उत्तर प्रदेश, भारत।
  • संरक्षक - भारतीय जैन मिलन, उत्तर प्रदेश, भारत।
  • अध्यक्ष - अखिल भारतीय श्री स्वेथम्बर स्थानकवासि जैन मुनि मायाराम संघ, भारत।
  • अध्यक्ष - श्री एसएस जैन सभा, नई दिल्ली, भारत।
  • अध्यक्ष - श्री जैन सधवि पद्म विद्या निकेतन, दिल्ली, भारत।
  • अध्यक्ष - सेठ ओम प्रकाश जैन चैरिटेबल अस्पताल, भारत।
  • उपाध्यक्ष - श्री तारक् जैन गुरु गरन्थलया समिति, राजस्थान, भारत।
  • आनोररी पशु कल्याण अधिकारी - भारत के पशु कल्याण बोर्ड, भारत सरकार।

सन्दर्भ[सम्पादन]

बाहरी कड़ियाँ[सम्पादन]


This article "जे डी जैन" is from Wikipedia. The list of its authors can be seen in its historical and/or the page Edithistory:जे डी जैन.